एक्जिम बैंक अनुमान

May I help you?

*सभी फील्ड अनिवार्य हैं

एक्जिम बैंक अनुमान

एक्ज़िम बैंक का पूर्वानुमान, भारत का वस्तु निर्यात वित्तीय वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में 7 प्रतिशत की दर से बढ़ेगा तथा गत वर्ष की इसी तिमाही के मुकाबले इस तिमाही में भारत का गैर-तेल निर्यात 7.2 प्रतिशत बढ़ेगा

भारतीय निर्यात-आयात बैंक (एक्ज़िम बैंक) ने वित्तीय वर्ष 2018-19 की तीसरी तिमाही यानी अक्टूमबर-दिसम्बर 2018 के दौरान, पिछले वर्ष की इसी तिमाही के मुकाबले भारत के कुल वस्तु निर्यातों में 7 प्रतिशत (77 अरब यू एस डॉलर से 82.39 अरब यू एस डॉलर की वृद्धि) तथा गैर-तेल निर्यातों में 7.2 प्रतिशत (66.65 अरब यू एस डॉलर से 71.45 अरब यू एस डॉलर) की वृद्धि होने का पूर्वानुमान लगाया है। यह पूर्वानुमान एक्ज़ि्‍म बैंक के एक्सपोर्ट लीडिंग इंडेक्सर (ई एल आई) मॉडल पर आधारित हैं, जिसमें निरंतर वृद्धि देखी गई है। भारत के कुल वस्तु निर्यातों और गैर-तेल निर्यातों में वृद्धि का पूर्वानुमान हर तिमाही आधार पर संबंधित तिमाही के लिए जून, सितंबर, दिसंबर और मार्च के पहले सप्ताह में जारी किया जाएगा और इस मॉडल में भी निरंतर सुधार का प्रयास किया जाता रहेगा। जनवरी-मार्च 2019 तिमाही के लिए भारत के निर्यातों में वृद्धि का अगला पूर्वानुमान मार्च 2019 के पहले सप्ताह में जारी किया जाएगा।

अपने शोध प्रयासों की कड़ी में एक्ज़िं‍म बैंक भारत के निर्यातों का तिमाही आधार पर ट्रैक रखने तथा वृद्धि में पूर्वानुमान के लिए एक्स़पोर्ट लीडिंग इंडेक्स (ई एल आई) तैयार करने हेतु विकसित यह इन-हाउस मॉडल है। यह इंडेक्स देश के निर्यातों पर प्रभाव डालने वाले विभिन्न बाह्य एवं घरेलू कारकों को ध्यान में रखते हुए कुल वस्तु एवं गैर-तेल निर्यातों में तिमाही आधार पर वृद्धि का पूर्वानुमान लगाने के लिए एक प्रमुख संकेतक के रूप में विकसित किया गया है।

एक्ज़िम बैंक द्वारा अपने निरंतर शोध प्रयासों की कड़ी में भारत के निर्यातों का तिमाही आधार पर ट्रैक रखने तथा वृद्धिमें पूर्वानुमान के लिए एक्सतपोर्ट लीडिंग इंडेक्सर (ई एल आई) तैयार करने हेतु यह इन-हाउस मॉडल विकसित किया गया है। इस इंडेक्स को देश के निर्यातों पर प्रभाव डालने वाले विभिन्न बाह्य एवं घरेलू कारकों को ध्या न में रखते हुए इस मॉडल को देश के वस्तुक निर्यातों में तिमाही आधार पर वृद्धिन का पूर्वानुमान लगाने के लिए एक प्रमुख संकेतक के रूप में विकसित किया गया है।

विस्तृत जानकारी के लिए कृपया संपर्क करें-

श्री डेविड सिनाटे, मुख्य महाप्रबंधक/ डॉ. विश्वंनाथ जंध्या ला, मुख्यख प्रबंधक, शोध एवं विश्लेिषण समूह,

भारतीय निर्यात-आयात बैंक, केन्द्रक एक भवन,

21वीं मंजिल, विश्वn व्यापार केन्द्र संकुल, कफ़ परेड, मुम्बुई 400005

टेलीफोनः +91-22-2217 2701/ 2708/ 2711

फैक्सःन (022) 22182572

ई-मेलः dsinate@eximbankindia.in / viswanath@eximbankindia.in

वेबसाइटः www.eximbankindia.in

डिस्क्लेमरः उपर्युक्त परिणाम नीति निर्माताओं, शोधार्थियों और निर्यातकों के लिए महत्त्वपूर्ण हो सकते हैं। ये पूर्वानुमान एक्ज़िम बैंक के शोध एवं विश्लेषण समूह द्वारा तैयार किए गए हैं। इसे एक्ज़िम बैंक की राय न माना जाए। एक्स़पोर्ट लीडिंग इंडेक्सस (ई एल आई) से प्राप्त तिमाही के लिए वृद्धि पूर्वानुमान वैश्विक अर्थव्यवस्था में कमोडिटी मूल्य अस्थिरता और कुछ प्रमुख विकसित और उभरती बाजार अर्थव्यवस्थाओं द्वारा अपनाए गए व्यापार सुरक्षा उपायों सहित मुख्य रूप से हालिया घटनाओं से उत्पन्न अनिश्चितताओं के अधीन हो सकते हैं।अद्यतन डाटा में सुधार, उन्नत पूर्वानुमान पद्धतियां तथा विभिन्न तिमाहियों में प्राप्त टिप्पणियों, सुझावों और फीडबैक को शामिल करते हुए इस मॉडल में लगातार सुधार किया जाता रहेगा। वास्तविक निर्यात डाटा भारतीय अर्थव्यवस्था पर आरबीआई के आंकड़ों से लिया गया है।