राष्ट्रीय निर्यात बीमा खाता (एनईआईए)

एनईआईए के अंतर्गत एक्ज़िम बैंक के क्रेता ऋण के प्रमुख नियम व शर्तें

1. कार्यक्रम भारत सरकार के राष्ट्रीय निर्यात बीमा खाता (एनईआईए) के अंतर्गत भारतीय निर्यात-आयात बैंक (एक्ज़िम बैंक) का क्रेता ऋण कार्यक्रम
2. पात्र उधारकर्ता संप्रभु सरकारें और उनकी नामित सरकारी स्वामित्व वाली इकाइयों को भारत से पात्र माल एवं सेवाओं के आयात के वित्तपोषण के लिए आस्थगित भुगतान शर्तों पर यह ऋण प्रदान किया जाता है।
3. पात्र माल भारत से परियोजना निर्यात
4. पात्र भारतीय कंपनियां अच्छी वित्तीय स्थिति वाले भारतीय निर्यातक, जिनका पिछला कार्य रिकार्ड संतोषजनक रहा हो।
5. क्रेडिट की राशि क्रेता ऋण के अंतर्गत सामान्य तौर पर संविदा मूल्य की अधिकतम 85% राशि ही कवर की जाती है। शेष 15% राशि का भुगतान परियोजना प्राधिकारी द्वारा किया जाता है। इससे ज्यादा की ऋण राशि के लिए मामले की विशिष्टता के आधार पर विचार किया जा सकता है।
6. विदेशी उधारकर्ता के लिए ब्याज दर इस कार्यक्रम के अंतर्गत विदेशी उधारकर्ताओं द्वारा देय ब्याज दर ऋण अवधि से जुड़ी (टेनर लिंक्ड) होती है।
कुल प्रतिफल (यील्ड)
उधारकर्ता द्वारा देय
निर्यातक द्वारा वहन प्रतिफल (यील्ड)
लाइबोर + 2.25% प्रति वर्ष
लाइबोर + 1.00% प्रति वर्ष
1.25% प्रति वर्ष p.a.
लाइबोर + 2.75% प्रति वर्ष
लाइबोर + 1.25% प्रति वर्ष
1.50% प्रति वर्ष p.a.
लाइबोर + 3.00% प्रति वर्ष
लाइबोर + 1.50% प्रति वर्ष
1.50% प्रति वर्ष p.a.
एक्ज़िम बैंक द्वारा इन दरों की छमाही (या बाहरी परिवेश में उथल-पुथल होने पर ज्यादा बार) आधार पर समीक्षा की जाती है।
7. भारतीय कंपनी द्वारा देय ब्याज अंतर और अन्य प्रभार / शुल्क भारतीय कंपनी द्वारा देय राशि में यथोचित ब्याज अंतर सहित एक्ज़िम बैंक द्वारा निर्धारित शुल्क एवं प्रभार शामिल हैं।
8. एनईआईए गारंटी फीस एनईआईए की व्यापक जोखिम कवर नीति के अनुसार मूलधन और ब्याज के लिए गारंटी फीस सहमत अनुसार लगभग 6 प्रतिशत होती है, जिसे (एकमुश्त, अपफ्रंट देय) विक्रेता / खरीदार को देना होता है। यदि ब्याज वार्षिक आधार पर कवर किया जाता है तो ब्याज पर देय गारंटी फीस 1% प्रतिवर्ष होगी। (आम तौर पर कवर पूरे मूलधन और ब्याज सहित ऋण चुकौती तक विनिमय दर में होने वाले परिवर्तन के लिए लिया जाता है, क्योंकि बीमा कवर शुरुआत में भारतीय रुपए में होता है।)
9. अवधि / पुनर्भुगतान अवधि ऋण अवधि सामान्य तौर पर 8 से 12 साल होती है। इससे अधिक अवधि के ऋण के लिए प्रस्ताव की मेरिट के आधार पर विचार किया जा सकता है।
10. प्रतिभूति
  • संप्रभु गारंटी, जहां उधारकर्ता विदेशी सरकार के अतिरिक्त कोई अन्य संस्था हो
  • निर्देश समिति द्वारा प्रत्येक मामले के आधार पर निर्धारित अन्य कोई प्रतिभूति
11. कार्यक्रम के अंतर्गत कवर होने वाली परियोजनाएं इस कार्यक्रम के अंतर्गत सहयोग के लिए ऐसे क्षेत्रों की परियोजनाएं कवर की जा सकती हैं, जिनमें भारतीय कंपनियों की विशेषज्ञता स्थापित हो चुकी हो। अन्य क्षेत्रों की परियोजनाओं को लगातार समीक्षा के बाद शामिल करने पर विचार किया जा सकता है। ऐसे क्षेत्रों में अन्य के अलावा निम्नलिखित प्रमुख हैं:
  • बिजली (उत्पादन, ट्रांसमिशन, वितरण), थर्मल, हाइड्रो, सौर और पवन;
  • यातायात [(i) रेलवे (रेल लाइनों, पुलों, सिग्ननलिंग, रॉलिंग स्टॉक सहित); (ii) सड़कें (फ्लाईओवरों, पुलों और टोल प्लाजा सहित); (iii) वाहन और संबंधित उपकरण (भारी वाणिज्यिक वाहनों, यात्री वाहनों सहित)]
  • पूंजीगत और इंजीनियरिंग माल
  • आवास, अस्पताल और संबंधित सिविल इंफ्रास्ट्रक्चर
  • पानी (ट्रीटमेंट, वितरण, स्वच्छता, सिंचाई)
12. पात्र देश एनईआईए के लिए ईसीजीसी की पॉजिटिव सूची में शामिल देश। यह सूची अन्य देशों से परियोजनाओं के लिए ऋण आवेदन मिलने पर बढ़ाई या संशोधित की जा सकती है।
13. ऋणदाता का इंजीनियर बड़े मूल्य की परियोजनाओं के लिए ऋणदाता की ओर से एक इंजीनियर की नियुक्ति की जा सकती है। इस इंजीनियर की भूमिका और जिम्मेदारी डिटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट और डिजाइन की समीक्षा करना, निष्पादन की निगरानी करना, संचालन का मूल्यांकन और रखरखाव करना तथा परियोजना के पोस्ट कमिशनिंग चरणों का खयाल रखना होगी। विदेशी क्रेता को एक्ज़िम बैंक को स्वीकृत अनुसार पोस्ट कमिशनिंग वार्षिक रखरखाव व्यवस्था की पुष्टि करने वाला प्रमाणीकरण प्रस्तुत करना होगा। इस इंजीनियर की लागत प्रोजेक्ट की कुल लागत में कवर की जाएगी।
14. भारतीय सामग्री इस योजना के अंतर्गत कवर किए गए माल और सेवाओं का कम से कम 75% भारत से आयात किया जाना अनिवार्य है। अपवाद की स्थिति में अधिकतम 10% की समुचित छूट प्रदान करने पर विचार किया जा सकता है। यह विशेष रूप से सिविल निर्माण वाली परियोजनाओं पर लागू होता है। .